किसान आंदोलन का हॉलीवुड अभिनेत्री रिहाना ने किया समर्थन, कंगना ने कहा ‘बेवक़ूफ़ चुप रहो’

पॉप सिंगर रिहाना ने देश में जारी किसान आंदोलन पर ट्वीट कर चिंता जताई तो कंगना ने बताया बेवक़ूफ़ तभी ग्रेटा थनबर्ग समर्थन में कूद पड़ी

देश में पिछले ढाई महीने से किसान आंदोलन को लेकर बवाल मचा हुआ है। एक तरफ किसान, 3 कृषि कानूनों को वापस करने पर अड़े हुए हैं तो वहीँ सरकार लगातार किसानों को नज़रअंदाज़ करने में जुटी हुई है। आये दिन सोशल मीडिया पर किसान आंदोलन को लेकर कोई न कोई ट्वीट वायरल हो रहा है। एक बार फिर किसानों के समर्थन में ऐसा ही एक ट्वीट वायरल हो रहा है। पर दिलचस्प बात यह है की ये ट्वीट भारत में किसी राजनैतिक दल या किसी नेता का नहीं है बल्कि विदेशी पॉप स्टार रिहाना का है। रिहाना ने किसान आंदोलन पर एक ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा “कोई भी, किसान आंदोलन जैसे मुद्दे पर बात क्यों नहीं कर रहा है ? रिहाना का ये एक ट्वीट, ट्विटर पर जमकर वायरल हो रहा है।

कुछ लोगों ने रिहाना के इस ट्वीट का समर्थन किया तो कुछ लोगों ने इसे मज़ाक के लहज़े में पेश किया। वहीँ जब यह ट्वीट वायरल हो रहा था तो अभिनेत्री कंगना रनौत भी सुर्खियां बटोरने के लिए इस कतार में कूद पड़ी। कंगना रनौत ने रिहाना के ट्वीट पर रीट्वीट करते हुए कहा, इसके बारे में कोई भी बात इसलिए नहीं कर रहा है क्योंकि ये किसान नहीं हैं बल्कि आतंकवादी हैं जो भारत को बांटना चाह रहे हैं। ताकि चीन जैसे देश हमारे राष्ट्र पर कब्ज़ा जमा लें और यूएसए जैसी चाइनीज कॉलोनी बना दें। तुम शांत बैठो बेवकूफ। हम लोग तुम्हारे जैसे बेवकूफ नहीं हैं जो अपने देश को बेच दें।” हालंकि कंगना के इस जवाब पर रिहाना ने रिएक्ट नहीं किया लेकिन लोगों ने कंगना की जमकर क्लास ले ली, साथ ही रिहाना के ट्वीट का भी मज़ाक उड़ाना शुरू कर दिया।

रिहाना के ट्वीट पर भारत के लोगों ने तो सोशल मीडिया पर मीम्स की कतार लगा दी लेकिन इस ट्वीट के समर्थन में कई इंटरनेशनल सेलिब्रिटीज ने रिहाना सहित किसान आंदोलन का समर्थन किया। रिहाना के ट्वीट के बाद अंतर्राष्ट्रीय संस्था ह्यूमन राइट वॉच, इंटरनेशनल इंटरनेट राइट से जुडी संस्था, अमेरिकी मॉडल अमांडा सेर्नी समेत कई बड़ी नामी संस्था और इंटरनेशनल सेलेब्रिटीज़ ने भी किसान आंदोलन के समर्थन में ट्वीट जारी किया। इनमें से एक ग्रेटा थनबर्ग भी हैं जिन्होंने किसानों के समर्थन में ट्वीट किया। बता दें की ग्रेटा थन्बर्ग अक्सर भारत के मुद्दों पर ट्वीट करती आयी हैं। इस से पहले भारत में NEET की परीक्षाओं का विरोध कर रहे छात्रों के समर्थन में भी ग्रेटा ट्वीट कर चुकी हैं। यही नहीं कमला हैरिस की भतीजी मीना हैरिस ने भी ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा “यह कोई संयोग नहीं है की दुनिया की सबसे बड़ी लोकतांत्रिक व्यवस्था पर 1 महीने पहले से हमला जारी है। हम सभी को भारत में इंटरनेट शटडाउन और किसान प्रदर्शनकारियों के खिलाफ अर्धसैनिक हिंसा से नाराज होना चाहिए।

विदेशी सेलेब्रिटीज़ के इन ट्वीट्स पर भारत के विदेश मंत्रालय ने अपनी प्रितिक्रिया जारी की है। विदेश मंत्रालय ने कहा कि इन प्रदर्शनों को भारत की लोकतांत्रिक प्रकृति और लोकतांत्रिक राजतंत्र की नज़र से देखा जाना चाहिए। मंत्रालय ने आगे कहा कि ऐसे मामलों में टिप्पणी करने से पहले हम विनती करते हैं कि पहले तथ्यों का पता लगाया जाए और जमीनी स्तर पर मुद्दों को समझा जाए।

लेकिन भले ही रिहाना के ट्वीट का कंगना ने मज़ाक बनाया है या लोगों ने रिहाना के ट्वीट को ट्रोल किया हो पर इतना तो ज़ाहिर हो गया की किसान आंदोलन की गूँज सिर्फ भारत तक न सिमटकर दुनियाभर में फ़ैल रही है। किसानों की आवाज़ को बुलंद करते हुए दुनिया के बाकी देश भी अपनी आवाज़ बुलंद कर रहे हैं जो केंद्र सरकार के लिए एक चिंताजनक मुद्दा है क्योंकि इस से दूसरे देशों के साथ भारत के जो रिश्ते फ़िलहाल कायम है उनमें भी दरार पड़ने की सम्भावनाएँ जताई जा सकती है।

Show More

Related Articles

Back to top button