Petroleum Scam – तेल का खेल – कैसे आपके पास दोगुने रेट में पहुँचता है पेट्रोल और डीज़ल

Petroleum Scam - how petrol and diesel reach you at more than double the Price : Badi Khabar - Top Hindi News

Story Highlights
  • कई बार बढे पेट्रोल और डीजल के दाम
  • हर राज्य में पेट्रोल के दाम 80 के पार
  • सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा 'पेट्रोल के दाम 90 रु/ली. पहुंचना भारत सरकार की ओर से देशवासियों का आश्‍चर्यजनक शोषण है
  • रिफाइनरी में पेट्रोल के दाम 30 रुपये प्रति लीटर होते हैं
  • पेट्रोल को अधिकतम 40 रुपये प्रति लीटर के हिसाब से बेचा जाना चाहिए

आज बड़ी खबर में हम बात करेंगें पेट्रोल – डीजल की बढ़ती कीमतों को लेकर , साथ ही इसमें हम आपको बताएंगे कि कैसे आप तक आते आते पेट्रोल डीजल के दाम दोगुना तक बढ़ जाते है औऱ पेट्रोल की बढ़ती कीमत पर सुब्रमणयम स्वामी ने क्या स्टेटमेंट दिया और आखिर में बताएंगे कई मुख्य शहरों के पेट्रोल के दाम। तो बड़ी खबर पर हम चर्चा करें उससे पहले एक नजर आज की हेडलाइन्स पर।

  • करीब 971 करोड़ रुपये की लागत से बनने जा रहे 92 साल पुराना संसद का नया भवन, पीएम मोदी ने किया शिलान्यास। 2020 तक निर्माण कार्य हो जाएगा पूरा।
  • केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने प्रेस कॉफ्रेंस कर किसानों से अपील, कहा मुद्दों पर चर्चा के लिए भेजे लिखित प्रस्ताव पर विचार करें किसान, भारत सरकार हर समय बातचीत के लिए तैयार।
  • वहीं आम आदमी पार्टी ने दिल्ली पुलिस पर लगाए आरोप कहा, पुलिस की सांठ गांठ के साथ दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के घर पर हमला।

अब बात करते है आज की बड़ी खबर पर। आप अक्सर खबरों में सुनते है कि आज पेट्रोल – डीजल का दाम इतने पैसे बढ़ा।कभी इतने रूपये बढ़ा औऱ कल इतने। तो ऐसे थोड़ा-थोड़ा पैसे बढ़ाते बढ़ाते आपको पता भी नही चला होगा कि कब पेट्रोल और डीजल की कीमते आसमान छूं गई। पेट्रोल डीजल की कीमत जब भी बढ़ती है आप इसे एक महज एक खबर की तरह लेते होंगे और फिर भूल जाते होंगे। जाहिर सी बात है करीब-करीब सभी यही करते होगें। लेकिन क्या आप जानते है कि इस कोरोना महामारी जब लोगों की नौकरियां गई, बिजनिस ठप्प हुए, लोगों सेविंग्स खत्म हो गई। उस वक्त भी सरकार पेट्रोल के दाम बढ़ा रही थी और आपकी जेब खाली होती जा रही थी।

दरअसल लॉकडाउन के दौरान 1 अप्रैल तक पेट्रोल पर जो एक्साइज डयूटी थी वो थी 22 रूपए 98 पैसे और आज के समय ये है 32 रूपए 98 पैसे। यानि पूरे 10 रूपए एक्साइज ड्यूटी के नाम पर बढ़ाए गए। वही डीजल का भी यही हाल रहा। 18 रूपए 83 पैसे से बढ़कर एक्साइज ड्यूजी 31 रूपए 83 पैसे कर दी गई। यानि ये 13 रूपए तक बढ़ाई गई।

कोरोना काल में जहां कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट आई तो वहीं सरकार कीमत बढ़ाने में लगी हुई थी और आपकी जेब खाली करने में भी। अब इसे लेकर बीजेपी के दिग्गज नेता सुब्रमण्यम स्वामी टवीट करके अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। उन्होनें ट्वीट में लिखा कि ‘पेट्रोल के दाम 90 रुपये प्रति लीटर पहुंचना भारत सरकार की ओर से देशवासियों का आश्‍चर्यजनक शोषण है। रिफाइनरी में पेट्रोल के दाम 30 रुपये प्रति लीटर होते हैं। इसके बाद सभी तरह के टैक्‍स और पेट्रोल पंप कमीशन मिलाकर इसमें 60 रुपये तक की बढ़ोतरी होती है। मेरी नजर में पेट्रोल को अधिकतम 40 रुपये प्रति लीटर के हिसाब से बेचा जाना चाहिए।’

आज हर शहर मे पेट्रोल के दाम 80 के उपर ही है और स्वामी का जैसा कहना कि पेट्रोल मैक्सिमम 40 रूपए प्रति लीटर के हिसाब से बेचा जाना चाहिए और हम सब करीब करीब डबल दाम दे रहे हैं। क्या आपको मालूम है कि पेट्रोल 26 रुपये 24 पैसे प्रति लीटर के भाव पर मिलता है, लेकिन पेट्रोल पंप पर पहुंचते पहुंचते कैसे इसका दाम 80 रुपये के पार चला जाता है?

ये हम आपको बताते हैं मान लीजिए सरकार को पेट्रोल मिला 26 रूपए 34 पैसे में, उस पर माल भाड़ा लगा 37 पैसे का, फिर 26 रूपए 71 पैसे में डीलर को बेचा। उसके बाद कैंद्र सरकार इस पर एकसाइज ड्यूटी लगाती है 32 रूपए 98 पैसे की। फिर डीलर का कमीशन निकाल लीजिए करीब 3 रूपए 65 पैसे और आखिर में राज्य सरकार वैट लगा देगी 19 रूपए की। तो टोटल आपको 82 रूपए तक देने पड़ते हैं। हर राज्य का वैट अलग अलग होता है तो पैट्रोल की कीमतों में भी आप अंतर हर राज्य में देखते होंगें।

आइए अब आपको बताते है कुछ शहरों के पेट्रोल के दाम – 26 रूपए में सरकार पेट्रोल लेती है और हम तक कितनें में पहुंचा देखिए। दिल्ली में पेट्रोल की कीमत है 83 रूपए 72 पैसे प्रति लीटर। वहीं नोएडा में 83 रूपए 67 पैसे प्रति लीटर, मुंबई में 90 रूपए 34 पैसे प्रति लीटर, लखनऊ में 83 रूपए 59 पैसे प्रति लीटर और वहीं पटना में 86 रूपए 25 पैसे प्रति लीटर।

विपक्ष तो आरोप लगाता ही आ रहा है, देखते हैं कि अब सीनियर भाजपा नेता द्वारा ही आरोप लगे हैं तो सरकार का उसपर क्या रिएक्शन आता है।

अगर आपने हमारे चैनल स्पार्क न्यूज़ को सब्सक्राइब नहीं किया है तो अभी कर लें और साथ में लगे बेल आइकॉन को दबा दें, जिससे हमारे सभी वीडियोज़ आपके पास तुरन्त पहुंचते रहें।

Show More

Sarita Tiwari

An human being, a social worker by heart but professionally I am a journalist.

Related Articles

Back to top button