दिल्ली सरकार और केंद्र के हॉस्पिटल्स में लगेगी अलग-अलग तरह की Corona Vaccine

Hindi News Latest Update - Different types of Corona Vaccine will be available in hospitals of Delhi Government and Central Hospitals - Spark News

मंगलवार से दिल्ली में कोरोना वैक्सीनेशन के पहले चरण की शुरूआत होने जा रही है। इस पहले चरण की शुरूआत होने से पहले ही दिल्ली सरकार ने यह बात साफ साफ शब्दो में बता दी है कि 75 वैक्सीनेशन सेंटर पर सीरम इंस्टयूट की वैक्सीन कोविशील्ड लगाई जाएगी और बाकी 6 वैक्सीनेशन सेंटर पर सिर्फ भारत बायोटेक की कोवैक्सीन लगाई जाएगी। आपको बता दे कि ये सभी केंद्र सरकार के ही Hospitals है। इसका मतलब है कि दिल्ली सरकार के Hospital और प्राइवेट Hospital में सिर्फ Covishield के ही टीके लगाए जाएंगे जबकि Central Government यानी की केंद्र सरकार के Hospital मे कोवैक्सीन के टीके लगेंगे।

Delhi Government के Health Minister Satyendra Jain का कहना है कि-‘ऐसा स्पष्ट वर्गीकरण इसलिए किया गया है ताकि दोनों वैक्सीन आपस में मिक्स-अप ना हों। अब इसमे सबसे जरूरी बात ये है कि मरीज़ को पहली डोज़ जिस वैक्सीन की दी गई है दूसरी डोज भी उसे उसी वैक्सीन की दी जाएगी। अब इसका ये मतलब है कि मरीज को अगर पहली डोज कोविशील्ड की दी गई है तो दूसरी डोज भी उसे कोविशील्ड की ही दी जाएगी ना कि Covaxin की।

वैक्सीनेशन के इस प्रोग्राम को लेकर दिल्ली के स्वास्थ मंत्री ने आज तक से बात करते हुए बताया कि दिल्ली में वैक्सीनेशन प्रोग्राम के लिए 81 Sites Select किये गए हैं. जिनमे से ज्यादातर अस्पताल ही हैं. एक साइट पर 100 लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। हफ्ते में चार दिन यानी की सोमवार, मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को ही टीकाकरण किया जाएगा। आगे उन्होने ये भी बताया कि कोविशिल्ड और कोवैक्सीन में एक वैक्सीन की मात्रा कम है तो दूसरी की ज्यादा. इसलिए वैक्सीन की क्वांटिटी को ध्यान में रखकर डिवाइड किया गया है कि जितने भी सेंटर हैं, उनमें कोवैक्सीन या कोविशिल्ड ही लगेगी. एक सेंटर में 2 वैक्सीन मिक्स नहीं हो सकती है. वरना ध्यान कैसे रखेंगे कि किस मरीज़ को कौनसी वैक्सीन लगाई गयी? इसलिए जिस सेंटर में कोविशील्ड या को-वैक्सीन लगाई गयी है वहां दोबारा वही वैक्सीन लगेगी.

Show More

Related Articles

Back to top button