आत्मनिर्भर भारत योजना को बढ़ाया गया, लोन लेने वालों को ऐसे होगा फायदा

आत्मनिर्भर भारत योजना को 31 मार्च 2022 तक बढ़ाने का फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण का बड़ा एलान।

AtmaNirbhar Bharat Yojna 31 March 2022 तक बढ़ाई गई, Loan लेने में मिलेगा यह Benefit | Spark News

कोरोना से जूझ रही भारतीय अर्थव्यवस्था को एक बार फिर से पटरी पर लाने के लिए भारत सरकार ने कई बड़े एलान किए। फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने उन सही  सेक्टर के लिए राहत पैकेज का  एलान किया  जो कोरोना की दूसरी लहर से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं । फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने कहा कि आत्म निर्भर भारत योजना को 31 मार्च 2022 बढ़ाया जा रहा है ।

बता दे कि यह योजना पिछले साल 30 सितम्बर को शुरू हुई थी  और इस योजना का फायदा MSME Industries को मिलेगा । जिससे  employers पर बोझ कम होगा  और वो नए लोगों को हायर कर सकेंगे ।
इस स्कीम का फायदा उन सभी कर्मचारियों को मिलेगा जिनकी सैलेरी 15,000/- रू से कम है। इस स्कीम के तहत अब तक करीब 21.42 लाख लोगों के लिए  902 करोड़ रूपये खर्च किए जा चुके हैं । इस स्कीम के तहत सरकार कर्मचारी कंपनियों को 12% PF का भुगतान करती है । सरकार ने इस स्कीम में 22810 करोड़ रुपये खर्च करने का लक्ष्य रखा है जिससे  करीब 58.50 लाख लोगों को फायदा मिलेगा ।

बता दे कि credit guarantee स्कीम के तहत छोटे कारोबारी,  Individual NBFC Micro Finance Institute से 1.25 लाख तक का लोन ले सकेंगे । इसका  मकसद नए लोन को बाँटना है । इस पर बैंक के MCLR पर maximum 2% जोड़कर ब्याज लिया जा सकेगा । इस लोन की अवधि 3 साल तक की होगी और सरकार इसकी गारंटी देगी। इस स्कीम का फायदा लगभग 25 लाख लोगों को मिलेगा । 89 days defaulter समेत सभी तरह के लोन लेने वाले  इस स्कीम के तहत eligible होंगे ।

Covid-19 महामारी  से बिगड़ी हुई अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने कई उपायों की घोषणा की है । इन्हीं उपायों के तहत स्वास्थ्य ढांचे में सुधार के लिए 1.1 लाख करोड़ रुपये के debt guarantee की घोषणा की गई है  साथ ही ECLGS के तहत लिमिट को 50% बढ़ाकर 4.5 लाख करोड़ कर दिया गया है ।

Show More

Related Articles

Back to top button