जोमाटो डिलीवरी बॉय क्या सच में बना फेक फेमिनिज्म का शिकार ?

Zomato delivery boy Kamaraj's statement has taken this whole incident into new track

हितेषा चन्द्राणी नाम की ब्यूटी और फैशन इन्फ्लुएंसर जिनकी हाल ही में एक वीडियो वायरल हुई जिसमे उन्होंने बताया जोमाटो डिलीवरी बॉय ने उनपर हमला किया और उनके नाक पे मुक्का मारा। उन्होंने फिर इस पूरी घटना के बारे में अपने सोशल मीडिया में अपलोड करा और उस वीडियो को लोगो तक पहुंचने में ज्यादा वक्त नहीं लगा ।

https://www.instagram.com/tv/CMOJo0XnfET/?utm_source=ig_web_copy_link

इस वीडियो के बाहर आते ही जोमाटो डिलीवरी बॉय कामराज को गिरफ़्तार कर लिया गया था और उनको जोमाटो से ससपेंड कर लिया गया। गिरफ्तार होने के बाद इस पुरे किस्से का दूसरा पहलु सुनने को मिलता है जब कामराज का बयान बाहर आता है।

जोमाटो डिलीवरी बॉय ने अपने बयान में यह बताया की उनकी कोई गलती नहीं है उन्होंने खुद पहले पैसे देने से मना किया था और साथ ही में अपना आर्डर वापिस नहीं कर रही थी और बहुत ही बुरी तरह से बर्ताव करने के कारण वो लिफ्ट के पास गए। साथ ही उन्होंने यह बताया की हितेश चन्द्राणी ने उनपर चप्पल फैका ,साथ ही उन्हें मारने की कोशिश करी ।

पिटाई से बचने के लिए उन्हें अपने हाथो का इस्तेमाल करना पड़ा और उसी दौरान चन्द्राणी के धक्का देते वक्त ही उनकी हाथो में पहनी अंगूठी उनको खुद ही लग गयी। कामराज ने यह भी बताया अगर कोई उनके चेहरे पर देखे तो साफ़ पता चल सकता है कि उनके नाक में लगी चोंट मुक्का मारने के वजह से तो बिलकुल भी नहीं है और वो खुद अँगूठी नहीं पहनते है।

उन्होंने यह भी बताया की दिल्ली के जोमाटो सपोर्ट सिस्टम के व्यक्ति ने उन्हें समर्थन दिया साथ ही सहानुभूति भी दी जब उन्होंने बताया  कि उन्हें किस परीक्षा से गुज़रना पड़ा। सबसे बड़ी दिक्कत यह है कि बेगुनाही साबित करने के लिए कोई CCTV फुटेज नहीं है।

पुलिस वालो ने फिलहाल उनको कुछ नहीं कहा लेकिन कानुनी विस्तार के लिए उन्हें 25 हज़ार तो चाहिए ही अपने अरेस्ट को रुकवाने के लिए।

कामराज के बयान के बाद कई लोगो ने कामराज को सपोर्ट किया और हितेषा चन्द्राणी की वीडियो को फेक फेमिनिज्म का एक नमूना भी बताया

इस पूरी घटना के बाद जोमाटो ने भी ट्वीट करा की उनकी सबसे पहली प्राथमित्का है कि सच सामने आए। फिलहाल वो हितेषा और जोमाटो डिलीवरी बॉय कामराज दोनों का समर्थन कर रहे है क्योकि जांच पड़ताल अभी भी चल रही है और साथ ही पुलिस की भी इस पूरे जांच -पड़ताल में सहायता कर रहे है।

 

“हमलोग हितेषा की चिकित्सा में भी मदद कर रहे है और हमलोग कामराज का भी पूरी तरह समर्थन कर रहे है ताकि दोनों तरफ की कहानी लोगो के सामने बाहर आए। प्रोटोकॉल के मुताबिक , हमने कामराज को जोमाटो डिलीवरी से ससपेंड कर दिया है लेकिन साथ ही उनके केस से जुड़े खर्चे हमलोग कवर कर रहे है। हमारे रिकॉर्ड के मुताबिक ,कामराज ने अब तक 5000 डिलीवरी करी है और उनकी रेटिंग 5 में से 4.7 है जो बहुत ही अच्छी रेटिंग में से और उनको हमारे साथ काम करते हुए 26 महीने हो चुके है।
साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि जल्द ही सच सामने आएगा”।

दिल्ली में नए साल तक शीत लहर चलने का पूर्वानुमान

 

Show More

Related Articles

Back to top button